Yoga for BeginnersYoga for Beginners

Yoga for Beginners: योग की शुरुआत  एक विशेषज्ञ के सामने करना चाहिए।

Yoga for Beginners: योग शारीरिक और मानसिक चिकित्सा के रूप में कार्य करता है। योग के दौरान किए गए प्रत्येक छोटे आसन का विशेष महत्व होता है। यह आवश्यक नहीं है कि आपको रोज़ कुछ घंटे योग करना ही है। हां, यदि आप हर हफ्ते में चार दिन योग करते हैं, तो यह आपके शारीरिक स्वास्थ्य के लिए काफी है। जब आप योग करना शुरू करते हैं, तो शुरुआती दौर में आप अक्सर अजनबी चीजों से गलतियाँ कर सकते हैं क्योंकि आपको उनसे अनजान परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आमतौर पर, कहा जाता है कि योग की शुरुआत में एक विशेषज्ञ के साथ ही योग करना चाहिए ताकि आप अपनी गलतियों को सुधार सकें और प्रारंभिक चरण में ही बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकें। आइए, हम जानते हैं कि शुरुआती दौर में अक्सर लोगों को किस तरह की छोटी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

The dress should not be loose (ढीली न हो ड्रेस)

Yoga for Beginners: योगासन को सही तरीके से करने के लिए आपकी सुविधा बहुत महत्वपूर्ण है। दिमाग, मन और शरीर तीनों चीजों को रिलेक्स रखें। इसके लिए योग के दौरान पहने जाने वाले पैंट और टी-शर्ट आपकी फिटिंग के ही होने चाहिए। पैंट को मुलायम और ढीला नहीं होना चाहिए ताकि योगासनों को करते समय किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़े। इसके साथ ही, टी-शर्ट को भी बहुत ज्यादा फिट नहीं होना चाहिए.

Choose your own Posture (खुद चुनें अपना आसन.)

Yoga for Beginners
Yoga for Beginners

Yoga for Beginners: अपने लिए सही योगासन का चयन करने में विशेष ध्यान दें। योग में प्रत्येक व्यक्ति के लिए एक विशेष आसन होता है। अपने लचीलेपन, सामर्थ्य, और संतुलन को ध्यान में रखकर, प्रारंभ में उस आसन को चुनें जो आपके लिए बेहतर हो। योग के बाद ही चिंता कम होती है, दिमाग शांत होता है, और शरीर को आराम मिलता है। अपने स्वास्थ्य और लक्ष्यों के आधार पर आसन का चयन करें। अपनी कमजोरियों और शक्तियों के साथ, एक योग विशेषज्ञ से सही आसन की सलाह लें।

धीरे-धीरे करें शुरुआत.

Yoga for Beginners

आसन के पोज़ को शुरुआत में धीरे-धीरे करें क्योंकि आप कोई एक्‍सपर्ट नहीं हैं, जो एक बार में सही से कर लें। योग के लिए लचीली बॉडी की आवश्यकता नहीं है। यह पोज़ लचीलापन बढ़ाने और आपकी ताकत बढ़ाने में मदद करेंगे। शुरुआत में योग के बाद बॉडी को थोड़ा दर्द होगा लेकिन अभ्यास करते रहने से यह दर्द खत्म हो जाएगा और बॉडी रूटीन में आ जाएगी।

सांस लेने का तरीका रखें ध्यान.

सांस लेना, सांस छोड़ना और सही तरीके से सांस लेना, यह व्यायाम का हिस्सा है। आप तब तक आसन का अभ्यास नहीं कर सकते, जब तक आप मुँह से सांस लेने में माहिर नहीं बनते हैं। इसलिए, योगासन के दौरान नाक से सांस लेना और छोड़ना जरूरी है। योग के दौरान, मुझे सबसे पहली बात यह सीखने को मिली कि व्यायाम के समय सही तरीके से सांस लेने की क्या विधि है, आप सांस को जितना लंबा और देर तक ले सकते हैं करें, लेकिन ध्यान रहे कि दबाव डालकर सांस रोकने और खींचने की कोशिश न करें। आपको सांस को लेकर सतर्क होना पड़ेगा। यह सुनने में जितना आसान लगता है, करने में उतना ही मुश्किल होता है।

संतुलन का है खेल

आप सोच रहे होंगे कि आसन को बना लेना ही काफी है, आपको यह समझना चाहिए कि आसन को सही तरीके से बनाने के साथ-साथ उन्हें स्थिति में भी संतुलन बनाए रखना चाहिए, लेकिन ताकत के साथ नहीं। दिमाग संतुलन बनाने में होना चाहिए न कि पोज़ सही बनाने में।

आसन के बाद के पोज़

Yoga for Beginners

आसन के बाद सबसे महत्वपूर्ण बात है कि आपको कैसे रिलैक्स किया जाए। यह भी व्यायाम की एक रूप है। इस शवासन के दौरान, आप पीठ के बल लेट जाएंगे और सांस पर ध्यान केंद्रित करें। यह शरीर को आराम देने की तकनीक है।

Also Read This: Yoga: Top10 योगासन के फायदे

Follow us on: https://www.instagram.com/indiapresstv/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *